अमित शाह ने कहा, PPP पार्टी बनकर रह गई कांग्रेस

 अमित शाह ने कहा, PPP पार्टी बनकर रह गई कांग्रेस
Publish Date:21 May 2018 05:20 PM

नई दिल्ली: कर्नाटक चुनाव के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पहली बार मीडिया को संबोधित करते हुए कर्नाटक की जनता और कार्यकर्ताओं को धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी का वोट शेयर भी बढ़ा है। कर्नाटक में महिला के प्रति अत्याचार भी बढ़ा है। जेडीएस वहां जीती है जहां भाजपा कमजोर थी। जहां हम मजबूत रहे हैं, वहां हम ही जीते हैं। ये एंटी कांग्रेस जनादेश है। मुख्यमंत्री खुद चुनाव हारे, दूसरी सीट पर कम मार्जिन से चुनाव जीत पाए हैं। ये बताता है कि जनादेश कांग्रेस शासन के खिलाफ है। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर कोई टिप्पणी करने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि समय आने पर राहुल पर टिप्पणी करूंगा। 
कांग्रेस के खिलाफ है विधानसभा चुनाव में जनादेश
कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जनादेश कांग्रेस के खिलाफ है और जनता ने भाजपा को चुना है। जनता ने हमें सबसे ज्यादा सीटों पर जीत दी इसलिए सरकार बनाने का अधिकार पहले हमारा था। हम कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरे। पिछले पांच साल की सरकार में कांग्रेस की सरकार का भ्रष्टाचार, दलित उत्पीडऩ, महिला उत्पीडऩ में बढ़ोतरी हुई। उन्‍होंने कहा, ‘कांग्रेस के कुशासन के खिलाफ राज्‍य की जनता ने वोट किया। कर्नाटक को लेकर कुछ दल दुष्‍प्रचार कर रहे हैं, लेकिन क्‍या सबसे बड़ी पार्टी होकर दावा करना गलत है।‘ शाह ने दावा किया कि 2019 में फिर से उनकी पार्टी केंद्र में सरकार बनाएगी।
कांग्रेस बनी PPP पार्टी
अमित शाह ने कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कांग्रेस पर आरोपों की बौछार करते हुए अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस नेता के घर में फर्जी वोटर कार्ड बनाने का भंडाफोड़ हुआ। कांग्रेस आज कर्नाटक में जीत का जश्न मना रही है। उन्होंने कहा, 'क्या मंत्रियों के हारने, मुख्यमंत्री के हारने, सत्ता से बाहर होने का कांग्रेस जश्न मना रही है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब पीपीपी पार्टी बनकर रह गई है। यह अब पंजाब, पुडुचेरी और परिवार की पार्टी बनकर रह गई है। विपक्ष के जश्न पर अमित शाह ने कहा कि कर्नाटक की जनता जश्न नहीं बना रही है बल्कि कांग्रेस-जेडीएस जश्न बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को चुनाव से पहले ही अंदेशा था कि वो चुनाव हारने जा रहे हैं। शाह ने कहा कि कांग्रेस ने चुनाव प्रचार में सारी मर्यादाओं को तोडऩे का काम किया है. साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष ने खुद झूठा प्रचार किया है। 
ये रहे थे नतीजे
बता दें कि कर्नाटक के भाजपा को 104, कांग्रेस 78 और जेडीएस को 38 सीट मिली हैं। बुधवार को कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार का शपथ ग्रहण होगा। कुमारस्वामी दूसरी बार मुख्यमंत्री बनेंगे। भाजपा नेता येदियुरप्पा ने बहुमत परीक्षण से पहले ही इस्तीफा दे दिया था।
 

संबंधित ख़बरें