अयोध्या विवाद पर बोले भागवत, राम मंदिर निर्माण के लिए बनना होगा राम जैसा

अयोध्या विवाद पर बोले भागवत, राम मंदिर निर्माण के लिए बनना होगा राम जैसा
Publish Date:22 March 2018 07:05 PM

छतरपुर: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने एक बार फिर राम मंदिर का मुद्दा उठाया है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर का निर्माण हमारी इच्छा नहीं बल्कि संकल्प है। मौजूदा समय को अनुकल बताते हुए भागवत ने कहा कि राम मंदिर बनाने वालों को राम जैसा बनना पड़ेगा तभी यह कार्य संभव है। आरएसएस प्रमुख छतरपुर के मऊसहानियां स्थित शौर्यपीठ में महाराजा छत्रसाल की 52 फीट ऊंची प्रतिमा के अनावरण समारोह के मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि समूचे समाज को जोड़कर अब एक अनुकूल समय आ गया है आपका राम मंदिर निर्माण का संकल्प अब जरूर पूरा होगा। भागवत ने कहा कि जब स्वार्थ के बिना राष्ट्रहित में कदम उठाया जाता है और यह कदम समाज को जोड़कर उठाया जाए तो सफलता सुनिश्चित है यह सीख हमें शौर्य पुरुष महाराज छत्रसाल से लेनी चाहिए। आरएसएस प्रमुख ने कहा कि महाराज छत्रसाल ने मुगल आक्रांताओं से बुंदेलखंड की माटी को मुक्त रखने हेतु समूचे समाज को जोड़कर 52 लड़ाइयां लड़ीं और विशाल साम्राज्य की स्थापना की। बता दें कि कर्नाटक के उडुपी में भागवत ने राम मंदिर को लेकर बयान दिया कि अयोध्या में ही राम मंदिर बनेगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि वे अपने जीवन में ही वहां पर भव्य मंदिर बनता देख लेंगे। उन्होंने कहा था कि राम मंदिर केवल मंदिर नहीं है। वह पुरुषोत्तम राम की जन्मभूमि है।
 

संबंधित ख़बरें