दिल्ली में रोजाना 2 से अधिक बच्चियों से दुष्कर्म के मामले दर्ज

दिल्ली में रोजाना 2 से अधिक बच्चियों से दुष्कर्म के मामले दर्ज
Publish Date:21 May 2018 02:15 PM

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी से बच्चियों के साथ दुष्कर्म के रोजाना 2 से ज्यादा मामले रिपोर्ट होते हैं। विशेषज्ञों ने पीड़िताओं के लिए पुनर्वास नीति की जरूरत पर जोर दिया। विशेषज्ञों ने कहा कि पुनर्वास यौन हमलों की पीड़िताओं के जीवन का पुनर्निर्माण करने को लेकर है और इसके लिए एक नीति की जरूरत है क्योंकि ये बच्चे लंबे वक्त तक सदमे में रहते हैं। 
गौरतलब है कि दिल्ली में हाल में बर्बर दुष्कर्म की कई घटनाएं सामने आई थीं। आंकड़ों के मुताबिक 30 अप्रैल तक बच्चों से यौन उत्पीडऩ के 282 मामले रिपोर्ट हुए जबकि पिछले साल इसी अवधि में 278 मामले रिपोर्ट हुए थे। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि मामलों के बोझ की वजह से पुलिस की ओर से संवेदनशीलता की कमी है और कई बार तो माता-पिता बच्चों को ही जिम्मेदार ठहरा देते हैं।
 

संबंधित ख़बरें