नायडू के फैसले पर बोली ममता- देश को बचाने के लिए यह कदम जरूरी

 नायडू के फैसले पर बोली ममता- देश को बचाने के लिए यह कदम जरूरी
Publish Date:16 March 2018 06:14 PM

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से महज एक साल पहले आंध्र प्रदेश की तेलुगू देशम पार्टी ने राजग का साथ छोड़ दिया है। पार्टी ने आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा न दिये जाने की वजह से यह कदम उठाया है जिसके बाद राजनीति भी गरमा गई है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने तदेपा के राजग से अलग होने के फैसले का स्वागत करते हुए सभी विपक्षी पार्टियों से एक साथ आने की अपील की। टीएमसी प्रमुख ने ट्वीट किया कि मैं तदेपा के राजग छोड़ने के फैसला का स्वागत करती हूं। वर्तमान हालात में देश को विपत्तियों से बचाने के लिए ऐसे कदम आवश्यक हैं। उन्होंने लिखा कि मैं विपक्षी राजनीतिक दलों से अत्याचारों, आर्थिक विपत्तियों और राजनीतिक अस्थिरता के खिलाफ निकटता से काम करने की अपील करती हूं। बता दें कि मोदी सरकार के राज्य के साथ किए अन्याय के खिलाफ तदेपा अविश्वास प्रस्ताव भी ला सकती है। पार्टी प्रमुख एवं आंध्र पद्रेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू के साथ एक टेलीकांफ्रेंस के जरिए तदेपा पोलितब्यूरो ने सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया।   

संबंधित ख़बरें